यूपी पंचायत चुनाव: आम की तमन्ना, इमली पर लग गई मुहर

Share with:


UP Panchayat Elections 2021 गोरखपुर जिले के कई स्थानों पर जल्दबाजी के चक्कर में कई लोग दूसरे प्रत्याशी को वोट डाल आए। कुछ जगह पर लोग कन्‍फ्यूजन में दूसरे को वोट दे आए। मतदान केंद्रों के बाहर इसकी चर्चा भी होती रही।

गोरखपुर: खोराबार ब्लाक के एक गांव में मतदान केंद्र के बाहर एक महिला की उसके बेटे से गर्मागरम बहस हो रही थी। बेटा बोल रहा था, ‘अम्मा तोहके कई बार समझउले रहलीं कि आम चुनाव चिह्र पर मोहर लगावे के है लेकिन ते इमली के वोट दे दिहली, बताऊ घर के वोट बाहर वाले के मिलि गइल, ई बात केहू से बतावे लायक भी नाही बा।’ महिला कहती हैं, ‘चार परचा हाथ में दे दिहल गई रहल, हम भुला गइलीं कौने पर केके वोट देवेकेबा।’ उसी समय एक चुनाव अभिकर्ता वहां से गुजरा तो बेटा व मां दोनों शांत हो गए। खोराबार की तरह जिले के कई स्थानों पर जल्दबाजी के चक्कर में कई लोग दूसरे प्रत्याशी को वोट डाल आए। मतदान केंद्रों के बाहर इसकी चर्चा भी होती रही।

समझाकर भेज रहे थे अंदर 

मतदान केंद्रों की ओर जा रहे मतदाताओं को प्रत्याशी समर्थक लगातार अपने चुनाव चिह्र के बारे में जानकारी दे रहे थे। बता रहे थे कि मतपत्र पर नाम नहीं है बस चुनाव चिह्र है। साथ ही चुनाव चिह्र का सीरियल नंबर भी बता रहे थे। अभिकर्ता लगातार मतदाताओं से बिना जल्दबाजी मतदान के लिए प्रेरित करते रहे।

बाहर से आने वालों को दे रहे थे पर्ची

बाहर से घर आने वाले कई मतदाता बार-बार बताने के बाद भी मनपसंद प्रत्याशी का चुनाव चिह्र भूल जा रहे थे। इस कारण कई मतदाताओं को परिवार के लोग पर्ची पर अलग-अलग प्रत्याशियों का चुनाव चिह्र लिखकर देते नजर आए।

मतदान केंद्र में वोट मांगने पर रही रोक

मतदान केंद्र के अंदर प्रत्याशियों के अभिकर्ताओं को सख्त हिदायत दी गई थी कि वह किसी भी हाल में मतदाताओं से संपर्क नहीं करेंगे। जो अभिकर्ता मतदाता से संपर्क कर वोट मांगेंगे उन्हें तत्काल बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा। इसका असर था कि मतदान केंद्र के अंदर कोई वोट मांगता नहीं दिखा।

Author: MNI NEWS