March 3, 2021

https://www.modernnewsindia.com

www.modernnewsindia.com

मां-बाप के छोड़े गए असहाय बच्चे पहुंचे पुलिस की शरण में

नवाबगंज/फर्रूखाबाद:(MNI NEWS) नवाबगंज थाना क्षेत्र के गांव कनाशी निवासी उर्मिला देवी पत्नी लाल चंद्र जाटव 2 वर्ष पूर्व अपने बच्चों के साथ जिला जौनपुर से अपने बहनोई के साथ चली आई थी तथा अपने बच्चे पुत्री मोनिका 15 वर्ष, ललिता 10 वर्ष, 8 वर्षीय पुत्र काल्पनिक को लेकर के अपने बहनोई के साथ चली आई थी। जिसको बीते कल उर्मिला अपने बहनोई लालचंद्र को साथ में लेकर कहीं बाहर चली गई तथा बच्चों को कमरे में बंद करके घर में चली गई।

जब बच्चों ने लगभग 24 घंटे बीत जाने के बाद भी माता-पिता को अपने घर में नहीं देखा नवाबगंज थाना पुलिस की शरण में आए तथा उन्होंने अपनी आपबीती सुनाई तब से लगातार थाना पुलिस उनके मां-बाप के संपर्क में जुटाने की कोशिश कर रही है। लेकिन उनसे कोई संपर्क नहीं हो पा रहा है। पीड़ित बच्चों ने बताया कि उनके पूर्व पिता से जौनपुर में बात हो गई है।

उन्होंने बताया कि किसी प्रकार आप रेलवे स्टेशन पर आ जाएं मैं आपको वहां पर ले लूंगा लेकिन असहाय बच्चे क्या करते नहीं तो ट्रेन ही चल रही हैं ना बच्चों के पास जाने के लिए कोई भी पैसे का साधन है। जिससे पीड़ित बच्चे बुधवार को थाना पुलिस की शरण में पहुंचे हैं। नवाबगंज थानाध्यक्ष पूनम जादौन बच्चों को खाना-पीना खिलाया तथा उनके परिजनों से लगातार संपर्क करने की कोशिश कर रही है लेकिन बच्चों के परिजनों से कोई भी संपर्क नहीं हो पा रहा है असाय पीड़ित बच्चे खबर लिखे जाने तक थाना परिसर में ही बैठे हुए थे श्रीमान जी थाने में बैठे बच्चों का फोटो साथ में है।