20.85 करोड़ से सुधरेगी शहरी क्षेत्र की विद्युत,आठ किलोमीटर भूमिगत केबल डलवाई जाएगी

फर्रुखाबाद:(MNI NEWS) जिले के लोगों को जल्द ही बिजली की समस्या से काफी हद तक राहत मिल जाएगी। इसके लिये तैयारी तेज कर दी गई है। जनपद में एक नए विद्युत उप केंद्र का निर्माण किया जाएगा और तीस स्थानों पर नए ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। फाल्ट तथा ट्रिपिंग की समस्या को रोकने के लिये दस किलोमीटर लंबी जर्जर लाइन बदली जाएगी और आठ किलोमीटर भूमिगत केबल भी डलवाई जाएगी। इसके लिये शासन ने 20.85 करोड़ की योजना को हरी झंडी देने के साथ ही बजट उपलब्ध करा दिया है।

योजना में शहरी क्षेत्र के उपभोक्ताओं का विशेष ध्यान रखा गया है। इस क्षेत्र में अब बेहतर विद्युत व्यवस्था मिलेगी। इसको लेकर एक उपकेंद्र का निर्माण होगा तो दो उपकेंद्रों की क्षमता बढ़ाई जाएगी।

सदर विधायक ने अधिशासी अभियंता शहरी राजेंद्र बहादुर यादव के साथ बुधवार को पत्रकारों से वार्ता में बताया कि शहरी क्षेत्र के उपभोक्ताओं को बेहतर विद्युत व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए 20.85 करोड़ का प्रस्ताव तैयार किया गया था, जिसे शासन से स्वीकृति मिल गई है। विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने बजट भी स्वीकृत कर दिया है। इसमें 250 केवीए के 12 व 100 केवीए के 18 ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। पांचालघाट व कुटरा उपकेंद्र की क्षमता पांच एमवीए के स्थान पर 10 एमवीए कर दी जाएगी।

नया बिजलीघर बनाने की तैयारी शुरू
एक नया बिजलीघर भी बनाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। आठ किलोमीटर भूमिगत केबल भी डाली जाएगी। दो हजार नए विद्युत पोल भी खरीदकर स्टोर में रखे जाएंगे। 13 ट्रांसफार्मरों की फैंसिग का कार्य कराया जाएगा। विधायक ने बताया कि शहर क्षेत्र में फाल्ट की समस्या को देखते हुए 11 हजार केवीए की 10 किलोमीटर लंबी लाइनों के जर्जर तार भी बदलवाने का काम कराया जाएगा। इस दौरान उपखंड अधिकारी जितेंद्र सिंह, अवर अभियंता राकेश प्रजापति आदि मौजूद रहे।

बिना कनेक्शन के नलकूप कालोनी में हो रही विद्युत आपूर्ति
सदर विधायक के सामने शहर क्षेत्र में लाइनलॉस का मामला उठाया गया। इस पर उन्होंने विद्युत अधिकारियों को लाइनलॉस कम करने के निर्देश दिए। बिना कनेक्शन के ही नलकूप कालोनी में विद्युत आपूर्ति की जानकारी पर विधायक ने नाराजगी जताई और नियमानुसार कनेक्शन जारी करने को कहा। अधिशासी अभियंता राजेंद्र बहादुर यादव ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। शीघ्र ही कार्रवाई कराई जाएगी।