स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उन्हें किया गया याद

फर्रूखाबाद:(MNI NEWS) समाजवादी पार्टी के पूर्व महानगर उपाध्यक्ष नन्दकिशोर दुबे वन्देमातरम के निज निवास मोहल्ला सातनपुर में भारतीय संस्कृति को विश्व मंच पर ले लाने वाले महान दार्शनिक व देशभक्त स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उन्हें याद किया गया। स्वामी विवेकानंद के कथन उठो जागो और अपने लक्ष्य को हासिल करने से पहले मत रुको को जीवन में उतारने का संकल्प लेकर देश को विश्व गुरु बनाने का संकल्प लिया गया।

ब्रह्मर्षि शिक्षा एवं समाज कल्याण संस्थान के संस्थापक/अध्यक्ष व पूर्व लोकसभा प्रत्याशी आचार्य पं0 रामकिशोर द्विवेदी फलाहारी ने स्वामी विवकानंद की जयंती पर कहा अपने अकूत ज्ञान भंडार व ओजस्वी विचारों से सम्पूर्ण विश्व को भारतीय संस्कृति की सुगन्ध से पल्लवित करने वाले युवा आदर्श, प्रकाण्ड विद्वान युग प्रवर्तक स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर उनके चरणों में शत्-शत् नमन व समस्त जनपद वासियों को राष्ट्रीय युवा दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

सपा नेता नन्दकिशोर दुबे वन्देमातरम ने स्वामी विवेकानंद की जयंती पर उनको नमन करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद जी का एक ऐसा व्यक्तित्व जो बहुत कम समय तक इस धरा पर रहा, परन्तु उनके विचारों की रोशनी से समस्त दुनिया आज भी जगमग है। समरसतावादी हिंदुस्तान और धर्म का असली मतलब दुनिया को समझाने वाले स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर कोटिशः नमन।

मनोज शाक्य ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी का जन्मदिन विश्व युवा दिवस के रूप में मनाए जाने का प्रमुख कारण उनका दर्शन, सिद्धांत, अलौकिक विचार और उनके अतुल्य आदर्श हैं, जिनका उन्होंने हमेंशा पालन किया और भारत के साथ-साथ अन्य राष्ट्रों में भी उन्हें स्थापित किया। उनके विचार और आदर्श युवाओं में नई शक्ति और ऊर्जा का प्रवाह कर सकते हैं।

इस अवसर पर गोविंद दुबे,मनोज शाक्य,रंजन दुबे, आशीष कुमार,प्रभाकर यादव,पप्पू शाक्य,आयुष,राजेश कटियार, शिवम आदि लोगों ने भी स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके विचार ब्रह्मांड की सभी शक्तियां पहले से हमारी हैं। वो हम ही हैं जो अपनी आंखों पर हाथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अंधकार है!जिस तरह से अलग-अलग स्त्रोतों से उत्पन्न जलधाराएं अपना जल समुद्र में मिला देती हैं, उसी प्रकार मनुष्य द्वारा चुना हर मार्ग, चाहे अच्छा हो या बुरा परमात्मा तक जाता है। इन विचारों पर चलने सभी लोगों ने संकल्प भी लिया।