बकरीद की नमाज में मांगी मुल्क में खुशहाली और अमन चैन की दुआ


फर्रूखाबाद: जिले में बकरीद का त्यौहार बड़ी ही सादगी के साथ मनाया गया। कोरोना काल को देखते हुए मुसलमानों ने सामूहिक नमाज को कुर्बान कर घरों में नमाज अदा की। ईदगाहों में ताले लटके रहे और मस्जिदें सूनी रहीं। कोरोना के खात्मे को सजदे किए गए और मुल्क में खुशहाली के लिए दुआ की गई। बकरीद की मुबारकबाद मोबाइल और सोशल मीडिया के माध्यम से दी गई।

शनिवार को लाक डाउन में बकरीद का त्यौहार घरों में ही कैद होकर रह गया। बकरीद की नमाज बड़ी संख्या में लोगों ने घरों में अदा की। मोहल्लों और गांव की मस्जिदों में सोशल डिस्टेंस के साथ पांच पांच लोगों ने नमाज अदा की। नमाज बाद लोगों ने एक दूसरे को गले लगाकर नहीं मोबाइल से मुबारकबाद दी। मुबारकबाद के दौर के बीच खुदा की राह में कुर्बानियों का दौर चलता रहा। कोरोना काल को देखते हुए कुर्बानी की लोगों ने एक दूसरे को घर आने की दावत नहीं दी। सोशल डिस्टेंस के साथ और बड़ी ही एहतियात के साथ कुर्बानी दी गईं।

शहर इमाम मुफ्ती मोअज्जम अली नें घर में नमाज अदा कर कोरोना के खात्मे के साथ मुल्क में खुशहाली की दुआ की। मौलाना शमशाद चतुर्वेदी, शहर काजी मुताहिर अली, मौलाना सदाकत हुसैन शैथली, नें भी घर में नमाज अदा कर लोगों को संदेश दिया कि कोरोना काल में शासन प्रशासन का सहयोग करें। देश और दुनियां से कोरोना के खात्मे के साथ आपसी भाईचारे के लिए दुआ की।