गौवंश का वध कर मांस खाना पड़ा मंहगा, चार अभियुक्तों पर लगी रासुका


कायमगंज/फर्रूखाबाद: कायमगंज कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सलेमपुर दूंदेमई निवासी राजीव सिंह राठौर पुत्र रामभरोसे ने गत माह 26 मई को तहरीर देकर कहा था कि उसकी शाहीवाल नस्ल की गाय घर के बाहर बंधे खूंटे से गायब हो गयी थी। जिसका कटा हुआ सिर गांव के ही दिलशाद के खेत में जमीन में गड़ा मिला था। गौ पालक ने अपने ही गांव के मुनीश पुत्र झब्बू खां, रहमान पुत्र अब्दुल समद, जावेद उर्फ जाबिर पुत्र साबिर साह तथा बंटी पुत्र अनोखे खां पर अपनी गाय गायब करने तथा उसका वध कर मांस बेचने तथा खुद पका कर खाने का आरोप लगाय था।

पुलिस ने उसी समय 28 मई को सभी चारों अभियुक्त गिरफ्तार कर जिला कारागार फतेहगढ़ में निरूद्ध करा दिये थे। इसके उपरांत बदले घटना क्रम में कई हिन्दुवादी संगठनों ने इसका विरोध कर गौ वद्ध करने वालों पर और अधिक कड़ी कार्यवाही कर डीएम से मांग की थी। जिलाधिकारी ने गौ पालक राजीव सिंह राठौर का शिकायती पर पत्र संज्ञान लेते हुये जेल में बन्द चारों अभियुक्तों के विरूद्ध मुकदमा अपराध संख्या 166/2020 धारा 201 भा0द0वि0 व 3/5/8 उ0प्र0 गौ वद्ध निवारण अधिनियम के विरूद्ध दर्ज मुकदमे में आरोपित चारों अभियुक्तों के विरूद्ध रासूका लगाने का आदेश दे दिया। उसी के अनुसार कार्यवाही कर कोतवाली प्रभारी कायमगंज ने कार्यवाही करते हुये रासुका संबंधी नोटिस जिनमें निरूद्ध चारों अभियुक्तों को गत रात जिला जेल पहुॅचकर जेलर के माध्यम से सभी अभियंक्तगणों को तामील करा दिया है।