शब-ए-बरात में आज घरों पर होगी इबादत, बरकतों वाली रात गुनाहों से निजात पाने का मौका


फर्रूखाबादः शब-ए-बरात आज है। इस त्योहार को इस्लाम मजहब में इबादत की रात के लिए जाना जाता है। इस्लामी कैंलेंडर के मुताबिक यह आठवां महीना शाबान है। 14वीं तारीख यानी बृहस्पतिवार को सूरज के छिपने के बाद इबादत शुरू हो जाएगी, जो अगले दिन सूरज के निकलने तक जारी रहेगी। मोहम्मद मुजीब निवासी गुलरिया पोस्ट जरारी थाना जहानगंज फर्रुखाबाद बताते हैं कि हर रात से बेहतर शब-ए-बरात की रात होती है। पूरी रात इबादत की जाती है। गुनाहों से निजात पाने का बेहतर मौका है। यह रात बरकत वाली रात है। रात भर इबादत के बाद लोगों का काफिला कब्रिस्तान की रुख करता है, जहां बिछुड़े रिश्तेदारों को खिराजे अकीदत पेश करते हैं। हालांकि, इस बार यह सब कोरोना वायरस के संक्र्तमण और लॉकडाउन के चलते नहीं हो पाएगा।