चौरी चौरा कांड से ही सशस्त्र क्रांति का हुआ था शंखनाद

कायमगंज/फर्रुखाबाद:(MNI NEWS) गुलामी की बेड़ियों में जकड़ी भारत मां को आजाद कराने के लिए दो विचारधाराओं ने अहम भूमिका निभाई। वर्ष 1922 में गांधी जी का अहिंसक आंदोलन चल रहा … Read More