ताज़ा खबर :

बसपा ने शुरू किया आत्ममंथन, बदली जा सकती हैं जिम्मेदारियां

बसपा ने शुरू किया आत्ममंथन, बदली जा सकती हैं जिम्मेदारियां

Comments Off on बसपा ने शुरू किया आत्ममंथन, बदली जा सकती हैं जिम्मेदारियां

लखनऊ: पार्टी की राष्ट्रीय पहचान खोने की चर्चाओं के बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने आत्‍ममंथन शुरू कर दि‍या है। राज्‍य भर से आए पार्टी के सभी पदाधिकारियों और बड़े नेताओं के साथ पार्टी दफ्तर में बैठक कर रही हैं। इस बैठक में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता और नेता मौजूद हैं। इसे 2017 में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर अहम माना जा रहा है। साथ ही दिल्ली विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी की जीत के बाद समीक्षा के लिए दिल्ली भेजे गए पदाधिकारियों से भी फीडबैक लिया जा रहा है। पार्टी इस फीडबैक को आधार बना कर ही अपनी अगली रणनीति बनाएगी।

बसपा से जुड़े सूत्रों के मुताबिक मायावती वर्ष 2008 से अब तक हुए सभी चुनावों और उप-चुनावों की समीक्षा करेंगी। इनमें पड़े वोट प्रतिशत के आधार पर पार्टी अपनी और विरोधियों की रणनीति की समीक्षा करेगी। सूत्रों के मुताबिक बसपा सुप्रीमो दिल्ली चुनावों में हार के बाद भी इस बात से आशान्वित हैं कि यूपी में कानून व्यवस्था के मुद्दे पर यहां की जनता उन्हें एक बार फिर यूपी की बागडोर सौंप सकती है।

बसपा सुप्रीमो मायावती की अध्यक्षता में हो रही बैठक में पार्टी को मजबूत करने पर ज्यादा जोर दिया जाएगा। आगे की रणनीति बनाने के साथ ही केंद्र की मोदी सरकार, यूपी की सपा सरकार और अब आम आदमी पार्टी के खिलाफ हल्ला बोलने और पार्टी को मजबूत करने पर भी जमकर मंथन किया जाएगा। इस दौरान कई और महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश भी दिए जाएंगे।

सूत्रों के मुताबिक मायावती 2017 के विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी में नए सिरे से फेरबदल कर सकती हैं। दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद हो रही इस बैठक को पार्टी के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इससे पहले ही संगठन में बदलाव की चर्चा का बाजार गर्म रहा।
माना जा रहा है कि लखनऊ डिवीजन के कोऑर्डिनेटर नौशाद अली की जगह नसीमुद्दीन के करीबी माने जाने वाले इंतजार आब्दी ‘बॉबी’ को लखनऊ डिवीजन का नया कोऑर्डिनेटर बनाया जा सकता है। वे बसपा शासनकाल में तत्कालीन यूपीसीसी अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी के घर को जलाने के मामले में सुर्खियों में आए थे।
पिछले दिनों पार्टी से निकाले गए पूर्व मंत्री दद्दू प्रसाद और एमपी जुगल किशोर के कुछ करीबियों को भी बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है। या फि‍र उनका कद घटाया जा सकता है। काफी समय से हाशिये पर चल रहे पूर्व मंत्री कमलाकांत गौतम सहि‍त कुछ अन्य नेताओं को वापस लाइमलाइट में लाकर नई जिम्मेदारियां सौंपी जा सकती हैं।

Related Posts

इंश्योरेंस बिल आज राज्यसभा में होगा पेश, विपक्ष दे सकता है साथ

Comments Off on इंश्योरेंस बिल आज राज्यसभा में होगा पेश, विपक्ष दे सकता है साथ

राजभवन के पास लगी आग

Comments Off on राजभवन के पास लगी आग

नरम पड़ गए प्रशांत भूषण, केजरीवाल से मिलने के लिए मांगा समय, जानें क्‍यों

Comments Off on नरम पड़ गए प्रशांत भूषण, केजरीवाल से मिलने के लिए मांगा समय, जानें क्‍यों

झमाझम बारिश में डूबा कानपुर, तस्वीरों में देखिए शहर का हाल

Comments Off on झमाझम बारिश में डूबा कानपुर, तस्वीरों में देखिए शहर का हाल

कानपुर देहात में बनेगा ट्रॉमा सेंटर, CM अखिलेश ने की घोषणा

Comments Off on कानपुर देहात में बनेगा ट्रॉमा सेंटर, CM अखिलेश ने की घोषणा

पचास साल तक सुरक्षित रहेगा करदाता का डाटा

Comments Off on पचास साल तक सुरक्षित रहेगा करदाता का डाटा

शाहाबाद की सीडीपीओ से स्पष्टीकरण तलब

Comments Off on शाहाबाद की सीडीपीओ से स्पष्टीकरण तलब

गोरखपुर में जातीय संघर्ष, एक दर्जन से अधिक घायल

Comments Off on गोरखपुर में जातीय संघर्ष, एक दर्जन से अधिक घायल

पेशावर में आतंकी हमले से यूपी में अलर्ट जारी, बढ़ाई गई सीएम की सुरक्षा

Comments Off on पेशावर में आतंकी हमले से यूपी में अलर्ट जारी, बढ़ाई गई सीएम की सुरक्षा

सावधान: मिस कॉल पर बिना देखे री-डायल करना पड़ सकता है महंगा

Comments Off on सावधान: मिस कॉल पर बिना देखे री-डायल करना पड़ सकता है महंगा

व्यापारी के घर से लाखों को चोरी

Comments Off on व्यापारी के घर से लाखों को चोरी

लखनऊः भगवान से माफी मांगने के बाद चाेर ने मंदिर में किया एेसा घटिया काम

Comments Off on लखनऊः भगवान से माफी मांगने के बाद चाेर ने मंदिर में किया एेसा घटिया काम

Create Account



Log In Your Account