सांसद ने कार के कागजात न मिलने व धनराशि में हेराफेरी का एजेंसी मालिक व सेल्समैन के विरूद्ध कराया मुकदमा

Your ads will be inserted here by

Easy Plugin for AdSense.

Please go to the plugin admin page to
Paste your ad code OR
Suppress this ad slot.

फर्रूखाबादः भाजपा सांसद मुकेश राजपूत ने शनिवार को अपरान्ह करीब 3ः30 बजे फर्रूखाबाद कोतवाली में खरीदी गई एक सफारी कार की जमा धनराशि की हेराफेरी के बाद कार का पंजीकरण और बीमा के कागजात उपलब्ध न कराने पर एजेंसी मालिक व सेल्समैन भानू प्रताप चतुर्वेदी के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस मामले की जांच में जुटी।
पुलिस सूत्रों के अनुसार फर्रूखाबाद से भाजपा सांसद मुकेश राजपूत ने 28 अप्रैल 2017 को एक सफारी कार का 13 लाख 50 हजार रूपये में सौदा एटा जनपद के आर. ए. मोटर्स जिसकी शाखा फर्रूखाबाद शहर के ठण्डी सड़क स्थित विक्रय केन्द्र है से सौदा किया। इसी दिन 6 लाख 51 हजार रूपये नकद जमा किया गया और करीब दस दिन बाद 8 मई 2017 को पंजाब नेशनल बैंक से 6 लाख 31 हजार रूपये का लोन लेकर ड्राफ्ट एजेंसी को दिया गया। इसके साथ ही 68 हजार रूपया वाहन का रजिस्ट्रेशन व बीमा होने पर देने का वायदा किया गया। लेकिन गाड़ी मिलने के बाद करीब 20 माह होने पर भी एजेंसी मालिक व सेल्समैन भानूप्रताप चतुर्वेदी ने वाहन बीमा व पंजीकरण नहीं कराया।
पुलिस के अनुसार भाजपा सांसद श्री राजपूत ने अपनी रिपोर्ट दर्ज कराते हुये कहा कि मुझे आर्थिक नुकसान व मानसिक पीड़ा हुई है। मेरे द्वारा रूपयों को एक मुश्त जमा किया गया। लेकिन एजेंसी ने यह रूपये टुकड़ों में जमा दर्शाए और अभी तक कागजात उपलब्ध नहीं कराए।