वसीम रज़ा भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे होने पर आर.एस.एस. और सरकार के नुमाइंदे बनकर बयान बाजी कर रहे हैः कल्वे जव्वाद

Your ads will be inserted here by

Easy Plugin for AdSense.

Please go to the plugin admin page to
Paste your ad code OR
Suppress this ad slot.

फर्रूखाबादः केन्द्र सरकार ने हज सब्सिडी खत्म करके, मुस्लिम लड़कियों की तालीम पर खर्च व्यय किये जाने पर सहमति व्यक्त करते हुये उलेमा ए हिन्द राष्ट्रीय सेक्रेट्री एवं पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना सैय्यद कल्वे जव्वाद ने कहा कि देश में कुम्भ जैसे मेलों पर लाखों रूपये का खर्चा होता है तो ऐसे में हज सब्सिडी को खत्म नहीं किया जाना चाहिए था।

मौलाना श्री जव्वाद शहर के मोहल्ला सूफी खां स्थित दरगाह हुसैनिया मुजीबिया के सज्जादानशीन सैय्यद कारी शाह फसीह मुजीबी की सदारत में अपरान्ह करीब 12ः30 आयोजित एक प्रेसवार्ता में बोल रहे थे। अगामी 25 मार्च 2018 को परस्पर भाईचारा मुस्लिम समुदाय के आयोजित होने वाले एक विशाल सम्मेलन के लिये दरगाह सूफियों एवं शिया समुदाय लोगों की भीड़ जुटाने के सिलसिले में यहॉ आएं। श्री जव्वाद ने कहा कि मुझे टेलीफोन पर नाना प्रकार की धमकियां देने वाले आतंकियों के खिलाफ ही लखनऊ में यह सम्मेलन परस्पर मोहब्बत और भाईचारा के लिये किया जा रहा है। हम धमकियों से डरने वाले नहीं है।

मस्जिद अल्लाह का घर होता है ऐसे में शिया-सुन्नी वक्फ बोर्ड ही मस्जिद के मसले में बातचीत करते है। वसीम रज़ा भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे होने पर अपने बचाव के लिये आर.एस.एस. और सरकार के नुमाइंदे बनकर बयानबाजी कर रहे है। आयोध्या राम मंदिर का मसला बातचीत के जरिए हल होने के प्रयास का जिक्र करते हुये उन्होने कहा कि श्रीश्री रविशंकर महाराज धर्म गुरू है। ऐसे में उन्हे सभी को साथ लेकर आयोध्या राम मंदिर मसला हल करने के प्रयास करने चाहिए। एक-दो लोगों के साथ लेने से मसला यदि हल नहीं होता है तो अदालत के सर्व मान्य फैसले की प्रतीक्षा करनी होगी। इस अवसर पर मौलाना हबीब अहमद, मौलाना हसनेन वकई, मो0 सदाकत हुसैन सैथली, सैय्यद आफताब हुसैन आदि मौजूद रहे।