योग व्यापार का विषय नहीं बल्कि मानसिक अव्यवस्थाओं को दूर करने का प्रारूप हैःएसपी

Your ads will be inserted here by

Easy Plugin for AdSense.

Please go to the plugin admin page to
Paste your ad code OR
Suppress this ad slot.

फर्रूखाबादः पुलिस अधीक्षक दयानन्द मिश्र ने कहा कि योग हमारी शरारिक मानसिकताओं को बढावा मिलने के साथ ही विशषताओं का विकास होगा और जिससे भय मुक्त समाज एवं राष्ट्र निर्माण होगा।

श्री मिश्र ने रविवार को फर्रूखाबाद शहर के सर्च लाईट भवन स्थित प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के सभागार में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के 11वें वार्षिकोत्सव में मोमबत्तियां जलाकर केक काटने के बाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

उन्होने कहा कि आज के समय में बढ़ते तनाव को युवा पीढ़ी झेल नही ंपा रही है। ऐसे में युवक ड्रग्स व नशीले पदार्थों का सेवन कर रहे है। योग बहुत ही फायदेमंद अगर इसे सही तरीके से अनुशासित रूप में हम सभी अपनाएं तो योग से हमारी शारीरिक एवं मानसिक क्षमताओं को बढ़ावा मिलने के साथ ही विशषताओं का विकास होगा और योग से प्रत्येक मनुष्य तनावमुक्त रहेगा।

उन्होने बताया कि योग व्यापार का विषय नहीं बल्कि मानसिक अव्यवस्थाओं को दूर करने का प्रारूप है। योग का परिणाम यह है कि हमारी सोच एवं कर्म से लालच, हिंसा जैसी भावनाएं समाप्त हो जाए और स्वास्थ्य लाभ, सामाजिक सहयोग की प्राप्ति हो। जिससे भय मुक्त समाज एवं राष्ट्र का निमार्ण हो सके।

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की केन्द्र संचालिका बी. के. मंजू बहन ने कहा कि योग का वास्तिविक अर्थ दो अलग-अलग अस्तित्व वाली संख्या के योग से है। आज ऐसे ही योग की आवश्यकता है। जो सच्ची सुःख शांतिका अनुभव करा सके। स्वामी विवेकानन्द की एक पुस्तक राजयोग की चर्चा करते हुये उन्होने बताया कि इस पुस्तक के माध्यम से हर आत्मा को अपना-अपना अस्तित्व क्या है। योग में सामर्थ है कि वह प्राकृति को नियंत्रण करके, अपनी आतंत्रिक एवं वाहय दिव्यता को प्रत्यक्ष कर सकता है। योग के नाम पर शरीर को निरोग बनाने वाले विभिन्न योगासन शरीरिक मुद्राएं औ हटयोग भी प्रसिद्ध हो गये है। जो हमारे शरीर को सुख शांति प्रदान करते है।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी आर0 सी0 यादव, परियोजना निदेशक डी0आर0 विश्वकर्मा, भाजपा कार्यसमिति के सदस्य मिथलेश अग्रवाल, सुनहरी मस्जिद के इमाम मौलाना सदाकत हुसैन सैथली के साथ प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की बी0के0 रंजना, बी0के0 रीता, डॉ0 अनीता सूद प्रमुख रहीं। कार्यक्रम का संचालन सोनी मेहरोत्रा ने किया।